top of page

जाने मकर संक्रान्ति एवं पुण्यकाल का मुहूर्त और सही तिथि 14 या फिर 15 जनवरी


इस वर्ष मकर संक्रान्ति माघ कृष्ण पक्षीय सप्तमी शनिवार को रात्रि 8:30 बजे प्रारंभ होगी जिसका पुण्यकाल (रात्रि व्याप्त) होने से अगले दिन रविवार को सूर्योदय वेला से ही आरंभ होगा।

दान व गंगा स्नान का है विशेष मुहूर्त


यह पर्व आस्था एवं श्रद्धा का पर्व है। इस दिन विभिन्न वस्तुओं के दान की परम्परा है तिल और गुड का दान करने का विशेष महत्व है। इसी के साथ विभिन्न तीर्थ स्थानों के साथ गंगा में आस्था के स्नान की भी सुदृढ़ परम्परा है।


मकर संक्रान्ति होने के साथ ही भारतवर्ष में समस्त शुभकार्यों के आरंभ होने का समय माना जाता है। अत: शहनाइयों की गूंज के साथ विवाह, यज्ञोपवीत, गृहप्रवेश सहित शुभकार्यों में गति आने लगेगी।


इस वर्ष मकर संक्रान्ति -> राक्षसी नामक की है। यह संक्रान्ति श्रमजीवी अर्थात् नौकरीपेशा लोग मजदूर, श्रमिक, जनजाति वासी और निर्धन परिवारों के लिए विशेष लाभकर रहेगी।

41 views0 comments
bottom of page